चेरनोबिल दुर्घटना के 33 साल बाद भी बंद है प्रिप्यट(Pripyat) शहर

प्रिप्यट (Pripyat) परमाणु(nuclear) संघ से पीड़ित एक बंद शहर है, प्रिप्यट शहर की स्थापना 4 फरवरी 1970 की गयी थी ,चेरनोबिल परमाणु ऊर्जा संयंत्र चलाने के लिए, आधिकारिक तौर पर शहर में 1979 को उद्घाटन किया गया,27 अप्रैल 1986 की दोपहर को चेरनोबिल आपदा हुई, और फिर वहां की सरकार ने बिना वक्त गवाए शहर को खली करवा दिया जिस चेरनोबिल आपदा हुई उस वक़्त शहर को खली करवाया गया तब वंहा की जनसँख्या करीब 4,3960 थी ,अब प्रिप्यट (Pripyat) शहर यूक्रेन के मंत्रालय द्वारा निगरानी में है

चेरनोबिल दुर्घटना से पहले शहर पर कोई प्रतिबंध नहीं था क्योंकि सोवियत संघ द्वारा परमाणु ऊर्जा शहर को अन्य प्रकार की बिजली संयंत्रों की तुलना में अधिक सुरक्षा दे रहे थे, परमाणु ऊर्जा केंद्र सोवियत इंजीनियरिंग की उपलब्धि के रूप में पेश किया गया था, परमाणु ऊर्जा शांतिपूर्ण परियोजनाओं के लिए परमाणु ऊर्जा का उपयोग किया गया था।

“शांतिपूर्ण परमाणु उन समय के दौरान लोकप्रिय परियोजना थी ,मूल योजना कीव से केवल 25 किलोमीटर (16 मील) का निर्माण करने के लिए किया गया था, लेकिन यूक्रेनी एकेडमी ऑफ साइंसेज ने इस बारे में चिंता व्यक्त की परमाणु(nuclear) संघ यह शहर के करीब है। कीव से लगभग 100 किमी (62 मील) आपदा के बाद प्रीपीट शहर को दो दिनों में खाली किया गया था।

चेरनोबिलदुर्घटना से पहले शहर में स्थित थे—–

–   1 लाख बच्चों के लिए 19 प्राइमरी स्कूल थे
–   160 अपार्टमेंट के ब्लॉक और उनमें 13,414 अपार्टमेंट
    निवास के लिए 18 हॉल थे जिसमे 7,621 पुरुष और महिला आ सकती थी
   1 अस्पताल था जिसमें 410 रोगी अपना इलाज एक साथ करा सकते थे
–   3 क्लीनिक थे

   25 स्टोर और मॉल थे

   27 कैफे, कैफेटेरिया और रेस्टोरेंट जंहा हर रोज़ 5,535 ग्राहकों को खाना सर्व किया जाता था

–   10 गोदाम थे जिसमे मे 4,430 टन माल था

   10 जिम
   3 इनडोर स्विमिंग पूल
   10 शूटिंग गैलरी
   2 स्टेडियम

   1 पार्क था
   35 खेल के मैदान थे
   18,136 पेड़ थे

   33,000 गुलाब के पौधे
  4 कारखाने थे जिनमे 477,000,000 रूबल के कुल वार्षिक कारोबार के साथ काम किया जाता था और । 3/4 परमाणु ऊर्जा संयंत्र थे
  167 शहरी बस

प्राकृतिक चिंता यह है कि क्या यह Pripyat और आसपास का दौरा करने के लिए सुरक्षित है। अलगाव के क्षेत्र को अपेक्षाकृत सुरक्षित माना जाता है, और कई यूक्रेनी कंपनियां क्षेत्र के आसपास निर्देशित पर्यटन प्रदान करती हैं। वर्तमान में, अप्रैल 1986 के घातक स्तर की तुलना में दुर्घटना के दौरान जारी अल्पावधि आइसोटोप के क्षय के कारण, विकिरण के स्तर में काफी गिरावट आई है। शहर के अधिकांश स्थानों में, विकिरण का स्तर प्रति मिनट 1 (एक माइक्रोप्रोटेज) की समतुल्य खुराक से अधिक नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *